बुधवार, अगस्त 10, 2016

‘पत्रिका’ समाचार पत्र टाॅक शो ... जेंडर इक्वीलिटी .... डाॅ. वर्षा सिंह

Dr Varsha Singh
‘पत्रिका’ समाचार पत्र द्वारा एक महत्वपूर्ण ‘टाॅक शो’ आयोजित किया गया जिसमें मैंने और मेरी छोटी बहन डाॅ. शरद सिंह ने भी अपने विचार रखे। मुद्दा था ‘‘जेंडर इक्वीलिटी’’....
 ‘टाॅक शो’ के लिए धन्यवाद ‘‘पत्रिका’!
(10 जुलाई 2016) ...

 http://epaper.patrika.com/c/12387420



Patrika - Talk Show - 10.08.2016 - Varsha Singh
 
Patrika - Talk Show - 10.08.2016 - Varsha Singh


Patrika - Talk Show - 10.08.2016 - Varsha Singh

सोमवार, अगस्त 08, 2016

My Poetry

शुभ संध्या

सोचो शाम अगर न होती
दिन के बाद आ जाती रात
कैसे मिल कर हम कर पाते
जाते हुए समय की  बात
~ डॉ वर्षा सिंह

शनिवार, जुलाई 23, 2016

My Poetry

बज रही बांसुरी
सज रही ज़िन्दगी
चांद की आहटें
सुन रही चांदनी
मन में कान्हा बसे
रोशनी -  रोशनी
इश्क़ गढ़ने लगा
हर तरफ आशिक़ी
नेह - "वर्षा" हुई
भीगती शायरी
- डॉ वर्षा सिंह

My Poetry


भोर हो कर भी ज़िन्दगी ठहरी
गर  ख़ुमारी  न रात की  उतरी

ज़िद पे गर आ गये विफल होगी
लाख़ दुश्मन की चाल हो गहरी

आइये मिल के हम करें कोशिश
हो  न  'वर्षा' कहीं  कभी  ज़हरी
    - डॉ वर्षा सिंह