मेरा परिचय

शिक्षा               - एम.एस.सी (वनस्पति शास्त्र), बी.एड.
                     डॉक्टर ऑफ इलेक्ट्रो होम्योपैथी एण्ड मेडिसिन।

प्रकाशित पुस्तकें -

ग़ज़ल संग्रह-वक्त पढ़ रहा है, सर्वहारा के लिए, हम जहां पर हैं, सच तो ये है, दिल बंजारा
नवसाक्षरों के लिए-पानी है अनमोल, कामकाजी महिलाओं के सुरक्षा अधिकार
आलोचना पुस्तक-हिन्दी ग़ज़ल: दशा और दिशा
अन्य प्रकाशन- हंस, सारिका, आजकल, वागर्थ, धर्मयुग, साप्ताहिक हिन्दुस्तान, नई धारा, बेला, ईसुरी, गोलकुण्डा दर्पण, परिधि, जनसत्ता, दैनिक हिन्दुस्तान, लोकमत समाचार, दैनिक भास्कर, नवभारत, दैनिक जागरण, देशबन्धु आदि देश की प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं सहित विद्युतमण्डल/ विद्युत वितरण कम्पनी की गृह पत्रिकाओं ‘विद्युत सेवा’ एवं ‘विद्युद् ब्रह्मेति’ में रचनाओं का प्रकाशन।

संपादन-मध्य प्रदेश राज्य विद्युत मण्डल हिन्दी परिषद् (बीना इकाई)की पत्रिका‘विद्युत पुष्प’ का संपादन।

प्रसारण-साहित्यिक मंचों, दूरदर्शन एवं आकाशवाणी के विभिन्न केन्द्रों से रचनाओं का नियमित प्रसारण।

सम्मान-केन्द्रीय हिन्दी परिषद, मध्य प्रदेश राज्य विद्युत मण्डल द्वारा ‘विशिष्ट हिन्दी सेवी सम्मान,हिन्दी परिषद् (बीना शाखा) मध्य प्रदेश राज्य विद्युत मण्डल द्वारा ‘हिन्दी शिरोमणि’ सम्मान,राजभाषा परिषद् भारतीय स्टेट बैंक, सागर शाखा द्वारा ‘उत्कृष्ट साहित्य सृजनकर्ता सम्मान’,जनपरिषद् भोपाल द्वारा ‘लीडिंग लेडी ऑफ मध्यप्रदेश’ सम्मान, बुन्देली लोक कला संस्था, झांसी, उत्तरप्रदेश द्वारा ‘गुरदी देवी सम्मान’

शोध एवं संकलनों में उल्लेख-‘वक्त पढ़ रहा है’ ग़ज़ल संग्रह देशके विभिन्न विश्वविद्यालयों के शोध ग्रंथों में संदर्भित एवं उल्लेखित। ‘महिला संदर्भ’ देशबंधु प्रकाशन (छत्तीसगढ़) ग्रंथ में उल्लेख। पचास से अधिक ग़ज़ल संकलनों में ग़ज़लें संकलित।

निर्णायक-मध्यप्रदेश राज्य विद्युत मण्डल की राज्य स्तरीय अन्तर क्षेत्रीय हिन्दी काव्य स्पर्धा में निर्णयक। मध्यप्रदेश राज्य विद्युत मण्डल की संभाग स्तरीय क्षेत्रीय हिन्दी काव्य स्पर्धा में निर्णयक। भारतीय स्टेट बैंक, सागर शाखा में हिन्दी वाद-विवाद प्रतियोगिता में निर्णायक। महारानी लक्ष्मीबाई शा.उ.मा. कन्या विद्यालय में हिन्दी वाद-विवाद प्रतियोगिता में निर्णायक।

संरक्षक   - समय-सुरभि (त्रैमासिक), नई ग़ज़ल (द्विमासिक)।

सम्प्रति   - मध्यप्रदेश पूर्वक्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी लिमि. में कार्यरत।

16 टिप्‍पणियां:

  1. लो जी आप तो ज्ञान का खजाना और बहुमुखी प्रतिभा की धनी है.और होम्योपेथी चिकित्सक भी हैं शायद.
    इतने सारे सम्मान ! कहाँ थी अब तक? कैसे बची रही अब तक मेरी नजर से?मैंने तो ब्लॉग की दुनिया से मोती खोज निकाले थे.मेरी दुनिया को खूबसूरत बना दिया इन लोगो ने....एक खूबसूरत प्यारा परिवार बन गया है मेरा. यूँ बहुत रिजर्व नेचर की हूँ.किसी को आने ही नही देती अपनी दुनिया में......... पर हर अच्छे इंसान से जुड कर मुझे अच्छा लगा.एक रचनाकार से ज्यादा जरूरी है एक अच्छा इंसान होना.वो........मैं रचनाये पढ़ कर उन्हें पढ़ लेती हूँ.जैसे आपको...
    प्यार.

    उत्तर देंहटाएं
  2. इंदु पुरी गोस्वामी जी,
    मैं आपको धन्यवाद भर कहूं तो कम होगा, आपके अपनत्व ने मुझे भावविभोर कर दिया है। अत्यन्त आभारी हूं आपकी......आपके विचारों का मेरे ब्लॉग्स पर सदा स्वागत है। कृपया इसी तरह अपने अमूल्य विचारों से अवगत कराती रहें।

    उत्तर देंहटाएं
  3. डॉ0 विजय कुमार शुक्ल ‘विजय’ जी,
    आपको बहुत-बहुत धन्यवाद...

    उत्तर देंहटाएं
  4. kya tippani angreji mei bheji ja sakti hai ,hidi mei bhejne ke liye kya karna padega

    -mahipal

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपके ब्लॉग की व्यवस्थिता मुझे अच्छी लगी__रचनाकार में सलिखा तो होता है किन्तु वह अपनी रचनाओं के अतिरिक्त और कहाँ-कहाँ सलिखे का बेहतर उपयोग करता है यह रचनाकार व्यक्ति की कलात्मक प्रबंध-व्यवस्था पर निर्भर होता है | आपकी व्यवस्था सराहनीय है |
    विशेष रूप से जो आपने घडी स्थापित कर रखी है वह अनूठापन प्रतीत होता है |
    *
    एक चिकित्सक का रचनाकार होना चिकित्सा के पेशे को आकर्षक बनाता है | ऐसा मेरा मत है |

    उत्तर देंहटाएं
  6. ap ke sabhi kavita me ne man lagaker patha dil ko bahut chanchal kar diya ap ko mari tarf so mubarak
    sanjay .jaipur

    उत्तर देंहटाएं
  7. Face book ke rasthe se apake is blog tak pahuncha to jana ki ek mahan writer ,vicharak,kavi shabdo ki dhani se mulakat hui. Aap BHEL Jhansi se kisi na kisi tarah se judi yah mere liye sobhagya ki bat hai. Meri samastya subhakamanaye.
    Motisingh Rawat

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत अच्छी web site है आप की बहुत अच्छी तरहासे इसे बनाया गया है आप की साईट के लिऐ बहुत सारी शुभकामनाऐ क्या आप मुझ से chat throw बाते कर सकती है आप को जानने मे और समझने मे मुझे बहुत अच्छा लगेगा यदी आप मुझसे chat करे तो

    उत्तर देंहटाएं
  9. आप जैसे खुबशुरत हैं आप की कविता भी बहुत खुबशुरत हैं आप को हमारे तरफ से नमास्‍कार

    उत्तर देंहटाएं
  10. नमस्कार महोदया ,
    मैंने एक हिंदी साहित्य संकलन नामक ब्लॉग बनाया है,जिन पर साहित्यकारों की रचनाओं के संकलित किया जा रहा है,यदि आप की भी कुछ ग़ज़लें/मुक्तक वहाँ होती तो ब्लॉग की सुंदरता बढ़ जाती.एक बार अवलोकन कर कुछ रचनाये भेजे जो आपके परिचय के साथ प्रकाशित की जायेगी .आपके पेज पर बहुत सारे उच्च कोटि की बेहतरीन ग़ज़लें/मुक्तक हैं,वहाँ से भी संकलित की जा सकती है...एक बार अवलोकन करे.आप लोगो जैसे साहित्यकारों का योगदान चाहिए.वैसे मैं भी होमियोपैथी पर कुछ ज्यादा ही विश्वास रखता हूँ इस पर मेरा ब्लॉग भी है स्वस्थ जीवन।
    http://kavysanklan.blogspot.ae/
    आपका स्नेहकांक्षी
    राजेंद्र कुमार

    उत्तर देंहटाएं
  11. नमस्कार वर्षा जी,बहुत अच्छा लगा अापकी रचनाऐ पढ़ कर।मुझे भी थोडा शौक है लिखने का।कया अाप मेरी अच्छा लिखने में मदद कर सकती हैं।अापको FB पर add कर सकती हूँ कया।यदि हा तो कैसे।धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं