सोमवार, दिसंबर 20, 2010

डॉ. वर्षा सिंह को ‘गुरदी देवी सम्मान’


महारानी लक्ष्मीबाई एवं स्व. इंदिरा गांधी के जन्म दिवस की पूर्व संध्या पर भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड झांसी एवं बुन्देली लोक कला संगम संस्थान, झांसी के संयुक्त तत्वावधान में विगत 18 नवम्बर को भेल प्रेक्षागार झांसी में गुरदी देवी सम्मान’ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर समाज सेवा के लिए आजीवन समर्पित स्व. गुरदी देवी की स्मृति में आरम्भ किया गया यह प्रतिष्ठित ‘गुरदी देवी सम्मान’ हिन्दी ग़ज़ल के क्षेत्र में अपनी विशिष्ट शैली एवं प्रयोगधर्मिता के लिए प्रसिद्ध कवयित्री डॉ. वर्षा सिंह को बुन्देली लोक कला संगम संस्थान, झांसी की ओर से प्रदान किया गया। सम्मान के रूप में डॉ. वर्षा सिंह को पांच हजार रुपए की नगद राशि, प्रशस्तिपत्र एवं स्मृतिचिन्ह प्रदान किया गया।
सुप्रसिद्ध उद्घोषक जैनेन्द्र ने डॉ. वर्षा सिंह की रचनायात्रा पर प्रकाश डालते हुए हिन्दी ग़ज़ल के क्षेत्र में उनके विशिष्ट योगदान की सराहना की तथा इसे काव्य विधा के लिए अति महत्वपूर्ण बताया। झांसी के साहित्यप्रेमी उद्योगपति मुकुन्द मेहरोत्रा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुए इस समारोह में प्रख्यात लेखिका डॉ. सुश्री शरद सिंह, प्रसार भारती लखनऊ के उपमहानिदेशक गुलाबचंद, भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड झांसी के अधिशासी निदेशक प्रभात कुमार, हाईकोर्ट लखनऊ के युवा अभिवक्ता विवेक कुमार एवं साहित्यकार पन्नालाल ‘असर’ की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।


9 टिप्‍पणियां:

  1. सिलसिला जारी रखें ।
    आपको पुनः बधाई ।
    साधुवाद । साधुवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. क्षमा जी,आभारी हूं। हार्दिक धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  3. श्याम कोरी ‘उदय’जी,हार्दिक धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुरेन्द्र सिंह " झंझट "जी, बधाई के लिए हार्दिक धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  5. राजीव कुमार कुलश्रेष्ठ जी,आभारी हूं। दिली धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  6. वर्षा जी आपको हार्दिक बधाइयाँ ! ..आप को यहाँ मै नववर्ष की शुभकामनाये दे रही हूँ .. आपको परिवार सहित नववर्ष खुशियाँ और अच्छा स्वस्थ लाए .. मंगलकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं